हिंदी विभाग की ओर से केंद्रीय अनुवाद ब्यूरो, नई दिल्ली और नगर राजभाषा कार्यान्वयन समिति के सहयोग से इस 5 दिवसीय अनुवाद प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया गया है। हिंदी विभाग के अध्यक्ष डॉ. गुरमीत सिंह ने बताया कि इस तरह के कार्यक्रम का आयोजन विश्वविद्यालय में पहली बार किया गया है और कार्यक्रम में [...]

अधिक पढ़े

केंद्रीय अनुवाद ब्यूरो, नई दिल्ली और नगर राजभाषा कार्यान्वयन समिति के सहयोग से 5 दिवसीय अनुवाद प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन हिंदी विभाग पंजाब विश्वविद्यालय में आगामी 22 अप्रैल से 26 अप्रैल तक किया जाएगा। हिंदी विभाग के अध्यक्ष डॉ. गुरमीत सिंह और नगर राजभाषा कार्यान्वयन समिति की सचिव संगीता वशिष्ठ ने यह जानकारी देते हुए [...]

अधिक पढ़े

हिंदी विभाग में "जलियांवाला बाग नरसंहार" के शताब्दी वर्ष पर आयोजित कार्यक्रमों की श्रृंखला की पांचवी कड़ी के रूप में चित्रार्थ द्वारा निर्देशित फिल्म 'शहीद उधमसिंह' की स्क्रीनिंग की गई | यह फिल्म जलियांवाला बाग नरसंहार की सच्चाई को उजागर करती है और उस समय की सामाजिक और राजनीतिक पहलुओं पर भी आधारित है। फिल्म [...]

अधिक पढ़े

कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय से प्रोफ़ेसर सुभाष चन्द्र अनुवाद डिप्लोमा की मौखिकी के सिलसिले मे हिंदी विभाग में पधारे। इसके उपरांत विभाग के पुस्तकालय में एक अनौपचारिक परिचर्चा का आयोजन किया गया। जिसमें प्रोफ़ेसर सुभाष चन्द्र भारतीय समाज को दिशा देने वाली दो हस्तियों ज्योतिबाफुले और भीमराव अम्बेडकर के चिंतन पर अपने विचार व्यक्त किए। आगामी 11और [...]

अधिक पढ़े

आज हिंदी विभाग में कहीं अनकही-विचार मंच की ओर से 'आज के युवा और जलियांवाला बाग' विषय पर परिचर्चा का आयोजन किया गया जो जलियांवाला बाग नरसंहार के शताब्दी वर्ष पर किए जा रहे कार्यक्रमों की श्रृंखला की चौथी कड़ी के रूप में था। इस पूरे कार्यक्रम का संचालन शोधार्थी प्रवीन मलिक ने किया। इस [...]

अधिक पढ़े

हिंदी विभाग के कही अनकही विचार मंच की ओर से आयोजित परिचर्चा मे इतिहास विभाग की अध्यक्ष प्रो. अंजू सूरी मुख्य वक्ता के रूप में शामिल हुईं। प्रो. अंजू सूरी ने 'जलियांवाला बाग : शहादत के सौ वर्ष' विषय पर अपनी प्रस्तुति दी, जिसमें उन्होंने जलियांवाला नरसंहार की घटना को अंजाम देने के पीछे अंग्रेजी [...]

अधिक पढ़े

महिला दिबस पर बॉलीवुड के मशहूर गीतकार और विभाग के पूर्व छात्र डॉ. इरशाद कामिल ने विभाग में आयोजित काव्य सम्मेलन में शिरकत करते हुए कहा कि मैं हमेशा इस विभाग का विद्यार्थी ही रहना चाहता हूँ। डॉ. कामिल जब भी चंडीगढ़ आते हैं तो विभाग का दौरा अवश्य करते हैं, उनका कहना है कि [...]

अधिक पढ़े

आज विभाग में शोधार्थी तारावती देवी की पीएचडी की मौखिकी सम्पन्न हुई। इनका पीएचडी का शोधविषय "तद्युगीन समाज एवं बालमुकुंद गुप्त के साहित्य में हास्य - व्यंग्य" है। शोधार्थी तारावती देवी ने विभाग के एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. अशोक कुमार जी के निर्देशन में अपना शोधकार्य सम्पन्न किया।मौखकी के लिए लखनऊ विश्वविद्यालय से डॉ. सूरज बहादुर [...]

अधिक पढ़े

हिंदी विभाग द्वारा अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर परिचर्चा 'उच्च शिक्षा में महिलाएं : नेतृत्व की चुनौतियां' था। इस परिचर्चा का संचालन टी.वी. पत्रकार वैशाली चौधरी ने किया। पंजाब विश्वविद्यालय की पूर्व डी.यू.आई प्रो. मीनाक्षी मल्होत्रा ने अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर आयोजित परिचर्चा में कहा की "महिलाएं मानवीय सम्बन्धों को संभालने में [...]

अधिक पढ़े

आज विभाग में शोधार्थी शर्मीला जिनका शोधविषय "भक्ति आन्दोलन के संदर्भ में गुरु जम्भेश्वर की वाणी का अध्ययन" की पीएचडी की मौखिकी सम्पन्न हुई। शोधार्थी शर्मीला ने विभाग के एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. अशोक कुमार जी के निर्देशन में अपना शोधकार्य सम्पन्न किया है। शोधार्थी शर्मीला की मौखकी के लिए अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय से प्रो. अब्दुल [...]

अधिक पढ़े